Amazon Flipkart को क्यों खरीदना चाहता है?

Written by
Online retail space - Amazon, Flipkart

नई दिल्ली: पिछले कई सालों से भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी Flipkart Amazon से कड़ी प्रतिस्पर्धी कर रही है। इसी के चलते अमेरिकन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजॉन जल्द ही फ्लिपकार्ट को खरीदने के लिए बोली लगा सकती है। इस समय Flipkart वॉलमार्ट जो की यह भी अमेरिकन कंपनी है उसके साथ हिस्सेदीर बिक्री के लिए बातचीत कर रहा है। बता दें कि वॉलमार्ट और अमेजॉन दोनों ही भारत के Online retail space में अपना दबदबा बनाये रखना चाहते हैं।

दरअसल इस समय Amazon Online retail space का सबसे बड़ा मार्केट प्लेस है जिसको भारत के Flipkart कंपनी से काफी दिनों से प्रतिस्पर्धा चल रही है जिस कारण अमेजॉन ने फ्लिपकार्ट को खरीदने का मन बना चुकी है और कंपनी सोच रही है कि इसके लिए फ्लिपकार्ट को ऑफर दिया जाये। वैसे दूसरी ओर फ्लिपकार्ट अमेरिका के ही एक दूसरी कंपनी जो कि सबसे बड़े रिटेल चेन वॉलमार्ट है उससे बिजनेस साझेदारी की बात कर रही है।

मीडिया सूत्रों से पता चला है कि Amazon ने Flipkart एक बड़े हिस्सेदारी को खरीदने के लिहाज से बातचीत शुरू कर दी है लेकिन एक अन्य बिजनेस न्यूजपेपर मीडिया के अनुसार फ्लिपकार्ट की डील वॉलमार्ट के साथ होने की ज्यादा संभावना है। इस न्यूज मीडिया के मुताबिक अमेजॉन और फ्लिपकार्ट के बीच डील होने की संभावना कम ही दिख रही है।

वैसे देखा जाये तो इस समय भारतीय Online retail space में Amazon और Flipkart का दबदबा है और यदि यह डील हो जाती है तो इस मार्केट में अमेजॉन का एकछत्र साम्राज्य कायम हो जायेगा। जब अमेजॉन से इसके बारे में बात की गई तो अमेजॉन ने इस पर टिप्पणी करने से मना कर दिया और दूसरी तरफ वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट दोनों ने ही इस मामले पर कुछ भी नहीं बोला।

कुछ सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि अमेरिकन कंपनी वॉलमार्ट ने Flipkart से उसकी 40% हिस्सेदारी को खरीदने की बात कर रहा है। अगर यह डील हो जाती है तो वॉलमार्ट की किसी विदेश में अब तक का सबसे बड़ा डील होगा और साथ ही भारत के ई-कॉमर्स मार्केट में कदम रखने का भी एक मौका मिल जायेगा। मॉर्गन स्टैनली ने कहा है कि भारत के ई-कॉमर्स मार्केट आने वाले 10 सालों में लगभग 200 अरब डॉलर का हो जायेगा।

जानकारी के लिए बता दे कि सचिन एवं बिन्नी बंसल जिन्होने ही फ्लिपकार्ट की स्थापना की है वे अमेजॉन के पूर्व एंप्लॉयीज भी रह चुके है। दोनों की इस कंपनी में 40% की हिस्सेदारी है। फ्लिपकार्ट की शुरुआत करने में ऐमजॉन के संस्थापक जेफ बेजॉस का ही हाथ रहा है इसके बाद फ्लिपकार्ट का भारत के ई-कॉमर्स मार्केट में बड़ी तेजी से विस्तार हो गया।

Leave a Reply

Shares