भयाक्रांत इमरान को छुट्टी के दिन भी चैन नहीं, ‘मोदी-शाह का अगला निशाना पाकिस्तान हो सकता है’

Written by

* लगा दी भारत और संघ विरोधी TWEETS की झड़ी

* गिड़गिड़ाने लगे इमरान खान, ‘दुनिया चुप रहेगी ?’

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 11 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। जब पूरी दुनिया आज रविवार को एंजॉय और रेस्ट के मूड में थी, तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अत्यंत आकुल-व्याकुल दिखाई दिए। इमरान खान रविवार सुबह तक तो शांत थे, परंतु दोपहर बाद उन्होंने ट्विटर हैण्डल खोला और दुनिया भर से मिली मायूसी का गुस्सा ट्विटर पर भारत विरोधी ट्वीट करके उतार डाला।

इमरान खान ने जो ट्वीट किया, उसमें स्पष्ट झलकता है कि उनके मन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की जोड़ी का बुरी तरह खौफ बैठ गया है। इमरान मोदी-शाह से भयाक्रांत नज़र आए। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के भारत सरकार के फैसले पर संयुक्त राष्ट्र (UN), अमेरिका (US) और रूस (RUSSIA) का समर्थन पाने में मिली विफलता के बाद इमरान को अपने परम् मित्र चीन से भी कोई विशेष आश्वासन नहीं मिला, तो इमरान ने ट्विटर पर भारत विरोधी मोर्चा खोल दिया।

दोपहर 1.28 बजे से शुरू की ट्वीट की झड़ी

भारत ने गत 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर का विभाजन कर केन्द्र शासित जम्मू-कश्मीर व केन्द्र शासित लद्दाख प्रदेश बनाने के निर्णय की घोषणा की। उसी दिन से इमरान खान की नींद हराम हो गई। पिछले पाँच दिनों के दौरान आनन-फानन में संसद का संयुक्त सत्र बुलाने, द्विपक्षीय व्यापार बंद करने, राजनयिक संबंध घटाने, समझौता-थार एक्सप्रेस और लाहोर बस सेवा रोकने जैसे आत्मघाती कदम उठाने के बाद इमरान खान को रविवार को फुरसत मिली, तो उन्होंने ट्विटर हैण्डल खोला और दोपहर 1.28 बजे पहला ट्वीट किया। 1.28 से 2.41 बजे यानी 1 घण्टा और 13 मिनट के बीच इमरान खान ने एक के बाद एक 5 ट्वीट कर डाले। उन्होंने पहले 2 ट्वीट तो अंग्रेजी में किए, परंतु उसके बाद 3 ट्वीट उर्दू भाषा में किए।

संघ पर इमरान का हमला

इमरान खान ने दोपहर 1.28 बजे एक साथ 2 बैक टू बैक ट्वीट किए। अंग्रेजी भाषा में किए गए इन ट्वीट्स में इमरान खान ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला किया। इमरान ने अपने इन दोनों ट्वीट में कहा, ‘आरएसएस की नाज़ी विचारधारा के प्रभाव में आकर कश्मीर में कर्फ्यू की स्थिति है। कश्मीर की डेमोग्राफी को चेंज करने के लिए जातिय संहार किया जा रहा है।’ इमरान ने दुनिया भर के देशों में अपना प्रोपेगेंडा फैलाते हुए इन देशों से अपील की, ‘क्या वैश्विक समुदाय भारत को लेकर चुप रहेगा, जैसे हिटलर के नरसंहार को लेकर चुप्पी थी ?’ इमरान ने धारा 370 हटाने को लेकर संघ पर निशाना साधते हुए कहा कि आरएसएस की विचारधारा हिन्दू श्रेष्ठता की है। इमरान के इस ट्वीट में उनके मन में बैठे मोदी-शाह के ख़ौफ को भी आसानी से पढ़ा जा सकता है, क्योंकि इमरान ने इस ट्वीट में यहाँ तक कह दिया, ‘क्या नाज़ी आर्यन श्रेष्ठता की ही तरह जम्मू-कश्मीर में भी यह जारी रहेगा। इसके अलाव भारत के मुस्लिमों के साथ भी यही होने वाला है और उनका अगला निशाना पाकिस्तान हो सकता है।’

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares