पीएम मोदी ने दिखाई करुणा : बीमार बेटी के इलाज के लिये बेबस पिता को दिये 30 लाख रुपये

Written by

अहमदाबाद, 23 जून-2019, (युवाप्रेस डॉट कॉम)। बिहार में फैले चमकी बुखार को लेकर एक तरफ जहाँ विपक्षी दल स्थानीय राज्य सरकार के साथ-साथ केन्द्र सरकार को भी आड़े हाथ ले रहे हैं और पीएम नरेन्द्र मोदी को भी कठोर, निष्ठुर और निर्दयी बता रहे हैं। वहीं दूसरी ओर पीएम मोदी ने बेटी बचाओ के अपने सूत्र को साकार करते हुए एक बीमार बेटी के बेबस पिता की गुहार सुनी है और परिवार की आर्थिक मदद करके अपनी करुणा भावना दिखाई है। पीएम मोदी का यह कदम विपक्षी दलों को करारा जवाब भी है।

अप्लास्टिक एनीमिया से पीड़ित है बेटी


आगरा के दौहरई, कुबेरपुर में रहने वाले सुमेर सिंह की बेटी ललिता सिंह पिछले दो वर्ष से बीमार है। ललिता को अप्लास्टिक एनीमिया है, जो कि एक बहुत ही गंभीर बीमारी है। इस बीमारी में शरीर में नये ब्लड सेल बनना बंद हो जाते हैं, इसके साथ ही बोन मेरो भी नष्ट होना शुरू हो जाता है। सुमेर सिंह के अनुसार उसे हर हफ्ते बेटी का खून बदलने के लिये खून का इंतजाम करना पड़ता है। इसके लिये सुमेर सिंह को हर महीने छह यूनिट ब्लड की व्यवस्था करनी पड़ती है। ललिता की हालत दो महीने से ज्यादा खराब होती जा रही है।


बिक चुकी जमीन और घर भी रखा गिरवी


बेटी के इलाज के लिये सुमेर सिंह को अपनी जमीन भी बेच देनी पड़ी है। घर भी गिरवी रखना पड़ा है। डॉक्टरों ने ललिता के बोन मेरो ट्रांसप्लांट के लिये 10 लाख रुपये का इंतजाम करने के लिये कहा है, परंतु परिवार के पास अब पैसों का इंतजाम करने के लिये कोई विकल्प नहीं बचा है।


इलाज कराओ या इच्छा मृत्यु की दो इजाजत


जब बेटी के इलाज के लिये पैसों का इंतजाम करने का कोई विकल्प नहीं बचा तो बेबस पिता ने पीएम नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा और कहा कि या तो सरकार उनकी बेटी का इलाज कराने के लिये आर्थिक मदद करे अन्यथा पूरे परिवार को इच्छा मृत्यु की इजाजत दे, क्योंकि परिवार बेटी को बेबसी से मरते हुए नहीं देख सकता।


पीएम मोदी ने बरसाई करुणा


हालाँकि पीएम मोदी ने बीमार बेटी के बेबस पिता की मानसिक स्थिति को भली-भाँति समझा और सुमेर सिंह की गुहार सुनी। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 30 लाख रुपये की आर्थिक मदद मंजूर की है। पीएमओ की ओर से यह रकम जारी की गई है। इसके बाद अब सुमेर सिंह अपनी बेटी का अच्छे से इलाज करवा पाएगा। ललिता सिंह को इलाज के लिये जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा, जहाँ उसका बोन मेरो ट्रांसप्लांट का ऑपरेशन भी किया जाएगा।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares