प्रधानमंत्री ने कहा- भारत रक्षा आयातक की छवि को समाप्‍त कर विश्‍व के एक महत्वपूर्ण रक्षा निर्यातक की नई पहचान बना रहा है

Written by

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत रक्षा सामग्री आयातक देश की छवि को खत्म कर रहा है और दुनिया के एक महत्वपूर्ण रक्षा निर्यातक की नई पहचान बना रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के अवसर पर बोल रहे थे।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि आज का दिन भारत के स्वतंत्रता संग्राम में राजा महेंद्र प्रताप सिंह के योगदान को नमन करने का दिन है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश रक्षा गलियारा विकास और रोजगार के क्षेत्र में अग्रणी होगा। उन्होंने कहा कि डिफेंस कॉरिडोर एमएसएमई सेक्टर के लिए काफी फायदेमंद होगा। उन्होंने कहा कि अब तक अलीगढ़ में बने ताले घरों की सुरक्षा करते थे लेकिन अब अलीगढ़ डिफेंस कॉरिडोर में निर्मित उत्पाद देश की सीमाओं की रक्षा करेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में केंद्र सरकार और योगी सरकार राज्य के विकास के लिए मिलकर काम कर रही है।  हमें उन ताकतों से लड़ना होगा जो राज्य में विकास के खिलाफ हैं। उन्होंने यह भी कहा कि आज उत्तर प्रदेश देश और दुनिया के हर छोटे और बड़े निवेशक के लिए एक आकर्षण का केन्द्र बन रहा है।  उन्होंने कहा कि ऐसा तभी संभव है जब विकास के लिए सही माहौल हो। उन्होंने राज्य में विकास की दिशा में काम करने के लिए योगी सरकार की सराहना की।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया देख रही है कि भारत आधुनिक ग्रेनेड और राइफल से लेकर लड़ाकू विमान, ड्रोन और युद्धपोत और उन्नत तोपखाने का निर्माण कर रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार उन स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान देते हुए याद कर रही है जिन्हें इतिहास में भुला दिया गया और उन्हें उनका वास्तविक स्थान और सम्मान नहीं मिला।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह ने न केवल देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी बल्कि उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में काफी काम किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह ने शिक्षण संस्थानों की स्थापना के अलावा अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के लिए जमीन भी दान में दी थी। उन्होंने युवाओं से चुनौतियों के समय राजा महेंद्र प्रताप सिंह से प्रेरणा लेने की अपील की। प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत सरकार  स्वतंत्रता सेनानियों को याद कर रही है।

इससे पहले प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी महान स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद और समाज सुधारक राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के लिए अलीगढ़ पहुंचे।

उद्घाटन से पहले प्रधानमंत्री ने आगामी राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय और डिफेंस कॉरिडोर के प्रदर्शनी मॉडल का निरीक्षण किया। इस विश्वविद्यालय की स्थापना अलीगढ़ की कोल तहसील के ग्राम लोढ़ा और ग्राम मुसेपुर करीम जरौली में 92 दशमलव दो-सात एकड़ से अधिक क्षेत्र में की जाएगी। राज्य सरकार ने विश्वविद्यालय के पहले चरण में निर्माण कार्य के लिए 101 करोड 41 लाख रुपये स्वीकृत किए हैं। इस विश्वविद्यालय में कौशल विकास और अन्य व्यावसायिक पाठ्यक्रम पढाये जायेंगे। विश्वविद्यालय की स्थापना से  अलीगढ़ हाथरस, कासगंज, एटा और आसपास के क्षेत्रों से जुड़े लगभग 395 महाविद्यालय सम्बद्ध होंगे।

अलीगढ़ रक्षा गलियारा परियोजना के लिए कुल 200 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया गया है। प्रारंभ में परियोजना के अन्तर्गत लगभग एक हजार 245 करोड़ रुपये के कुल निवेश परिव्यय के साथ 19 औद्योगिक इकाइयां स्थापित की जायेंगी। इस रक्षा गलियारे में छोटे हथियार, आयुध, ड्रोन, एयरोस्पेस मेटल कंपोनेंट्स, एंटी-ड्रोन सिस्टम, रक्षा पैकेजिंग और अन्य उद्योग लगाने का प्रस्ताव है। इस रक्षा गलियारे की घोषणा प्रधानमंत्री ने 2018 में की थी। यह गलियारा अलीगढ़, आगरा, कानपुर, लखनऊ, झांसी और चित्रकूट परियोजनाओं को जोड़ता है। उत्तर प्रदेश का रक्षा औद्योगिक गलियारा देश को रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने और ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares