मोदी के शपथ समारोह में 6,000 अतिथियों के लिए सजेगी राज भोग की थाली

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 29 मई, 2019। मनोनीत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 30 मई, 2019 गुरुवार को आयोजित होने वाले दूसरे शपथ ग्रहण समारोह में देश-विदेश से आने वाले खास मेहमानों के खास स्वागत-सत्कार की तैयारी की गई है। माना जा रहा था कि प्रचंड जीत के बाद पीएम मोदी भव्य समारोह का आयोजन करेंगे, परंतु बताया जा रहा है कि समारोह सादगीपूर्ण ढंग से ही आयोजित होगा।

पीएम नरेन्द्र मोदी का शपथ ग्रहण समारोह राष्ट्रपति भवन में आयोजित होगा, हालाँकि यह समारोह दरबार हॉल के स्थान पर राष्ट्रपति भवन के खुले परिसर में आयोजित होगा। दरबार हॉल में मात्र 500 मेहमानों के ही बैठने की व्यवस्था है, जबकि मोदी के इस समारोह में 6,000 से अधिक देशी-विदेशी मेहमान शामिल हो रहे हैं, इसलिये समारोह के लिये मुख्य द्वार से मुख्य भवन के बीच के खुले परिसर को चुना गया है। 2014 में भी मोदी ने इसी परिसर में शपथ ग्रहण की थी। उस समय भी लगभग 4,000 लोगों ने समारोह में शिरकत की थी।

इस खुले परिसर में शपथ लेने वाले नरेन्द्र मोदी चौथे प्रधानमंत्री बनेंगे। सबसे पहले 1990 में चंद्रशेखर ने इस खुले परिसर में शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया था। इसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी ने 1998 में तथा नरेन्द्र मोदी ने 2014 में इसी खुले परिसर में शपथ समारोह रखा था।

शपथ समारोह में अनेक विदेशी मेहमानों के अलावा, विविध देशों के भारत में स्थित राजदूत, प्रतिनिधि, देश के विविध राज्यों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, भाजपा और एनडीए के नेताओं के अतिरिक्त विपक्षी दलों के नेता, नवनिर्वाचित और पूर्व सांसद, शहीद सैनिकों तथा पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा में मारे गये भाजपा नेताओं-कार्यकर्ताओं के परिवारजनों को भी आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा कई उद्योगपति और बॉलीवुड सितारों सहित विविध क्षेत्रों के सेलीब्रिटीज़ भी समारोह की शोभा बढ़ाएँगे।

पहले ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि प्रचंड जीत मिलने से उत्साह के अतिरेक में पीएम मोदी और उनके मंत्रिमंडल के सदस्य भव्य समारोह का आयोजन करेंगे, परंतु समारोह के आयोजन की जिम्मेदारी सँभालने वाले एक अधिकारी ने बताया कि स्वयं मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आदेश से समारोह सादगीपूर्ण किन्तु गंभीर ढंग से आयोजित किया जाएगा।

राष्ट्रपति भवन के सूत्रों ने बताया कि 2014 में जब समारोह आयोजित हुआ था, उस समय 6 बजे के समारोह में 4.30 बजे से सेलेब्रिटीज आने शुरू हो गये थे और उनके पीने के लिये पानी की बोतलों की व्यवस्था भी नहीं हो पाई थी, लेकिन इस बार आयोजन में किसी तरह की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी और हर प्रकार की सुनियोजित व्यवस्था की गई है। राष्ट्रपति भवन का स्टाफ शपथ समारोह के 48 घण्टे पहले से ही तैयारी में जुटा है। शपथ समारोह में आने वाले विदेशी मेहमानों का समारोह स्थल के मुख्य द्वार पर स्वागत करने की व्यवस्था की गई है, जबकि समारोह के बाद डिनर में परोसी जाने वाली सामग्री का भी मेनू पहले से तय कर लिया गया है। वेज़ और नोनवेज़ दोनों तरह का भोजन तैयार किया गया है। रात को लोग हल्का-फुल्का खाना पसंद करते हैं, इसे ध्यान में रखकर ही मेनू तैयार किया गया है। डिनर के मेनू में ‘दाल रायसीना’ को भी विशेष जगह दी गई है।

इस समारोह को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रपति भवन के आसपास स्थित सरकारी कार्यालयों को जल्दी बंद करने के भी निर्देश दिये गये हैं। कार्मिक मंत्रालय की ओर से एक आदेश जारी करके बताया गया है कि नॉर्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक, रेल भवन, वायु भवन, सेना भवन, डीआरडीओ तथा हटमेंट्स में स्थित सरकारी कार्यालय गुरुवार दोपहर 2 बजे ही बंद कर दिये जाएँगे।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares