देश का सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला, जाने इसके बारे में कुछ खास तथ्य

Written by
PNB Nirav Modi Scam

पंजाब नेशनल बैंक का सबसे बड़ा घोटाला (PNB Nirav Modi Scam)

देश की दूसरी सबसे बड़ी बैंक पंजाब नेशनल बैंक में घोटाला होने की खबर मिली है। यह घोटाला (PNB Nirav Modi Scam) लगभग 114 अरब रुपये का है। इसकी वजह से पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) में हड़कंप मच गया। सुत्रों से ज्ञात हुआ है कि मेहुल और नीरव मोदी के खाते बैंक द्वारा फ्रॉड घोषित कर दिया गया है। वैसे ये दोनों रिश्ते में मामा-भांजे लगते हैं। पंजाब नेशनल बैंक ने सीबीआई (CBI) से नीरव मोदी जो कि हीरा कारोबारी है, उसके खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की है और मामले की जांच करने को कहा है। इसके साथ ही बैंक ने अपने 10 अफसरों को सस्पेंड कर दिया है जो कि इसमें लिप्त पाये गये हैं। बताया जा रहा है कि नीरव मोदी ने धोखाधड़ी द्वारा मुंबई की एक शाखा से साख पत्र (Letter of Credit) हासिल किया और इसके साथ ही विदेशों में अन्य भारतीय बैंकों से क्रेडिट हासिल की।

Punjab National Bank Scam

घोटालें में अन्य कंपनियों का हाथ

कुछ सुत्रों से यह भी ज्ञात हुआ है कि इस घोटाले में बड़ी बड़ी कंपनियों जैसे गिन्नी, गीतांजली तथा नक्षत्र आदि का हाथ हो सकता है। बता दे कि नीरव मोदी हीरा कारोबारी द्वारा बनाया गया हीरा जड़ित आभूषण विश्वभर के सेलेब्रिटिज द्वारा बहुत अधिक पंसद किया जाता है। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय के कुछ अधिकारियों द्वारा यह ज्ञात हुआ है कि यह घोटाला नीरव मोदी तथा अन्य कंपनियों के विभिन्न बैंको से साठ गाठ के बिना पॉसिबल नहीं है इसलिये इनके धन की अंतिम इस्लेमाल की भी जांच की जा रही है।

कुछ सुत्रों से ज्ञात हुआ है कि यदि पंजाब नेशनल बैंक ने अन्य बैंको के घोटाले की भरपाई नहीं की तो फिर बैंकिग सैक्टर को बहुत बाड़े नकुसान का सामना करना पड़ सकता है। कुछ आधिकरियों से यह भी पता चला है कि यह घोटाला 2000 करोड़ से अधिक का भी हो सकता है। इस घोटाले में कई और बैंक भी लिप्त हो सकते हैं।

घोटाले के भरपाई

इस घोटाले की जांच भारत सरकार के निगरानी में हो रही है। पी.एन.बी. के प्रबंधक अधिकारी सुनील मेहता ने इस घोटाले के बाद पहली बार मीडिया से बात की। उन्होने ही इस घोटाले की जानकरी जांच एंजैंसियों को दी जो लगभग 2011 से चल रहा था। यह भी पता चला है कि पंजाब नेशनल बैंक ने सरकार से मदद मांगी है क्योंकि उसके पास इतनी बड़ी रकम नहीं है कि अन्य बैंकों को इतनी बड़ी भरपाई कर सकें। इस घटना की सबसे बड़ी बात यह है कि इसको अंजाम किसी बाहरी लोगों ने नहीं बल्कि बैंक के अंदर के कर्मचारियों ने ही दिया है।

Article Tags:
· ·
Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares