चार दिवसीय अमेरिका यात्रा के बाद स्वदेश लौटे प्रधानमंत्री

Written by

नयी दिल्ली,26 सितंबर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी चार दिवसीय अमेरिका यात्रा के बाद रविवार को स्वदेश लौट आए।

राजधानी दिल्ली के पालम हवाई अड्डे के बाहर Bharatiya Janata Party (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा सहित पार्टी के अन्य नेताओं ने उनका स्वागत किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़े बजाकर और नृत्य कर प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया।

प्रधानमंत्री ने अपने स्वागत के लिए वहां पहुंचे सभी लोगों को धन्यवाद दिया। उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन भी किया और कुछ दूर पैदल चलकर उनसे हाथ भी मिलाया।

नड्डा ने इस अवसर पर आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री ने सारी दुनिया में भारत का डंका बजाया और देश को गौरवान्वित किया।

उन्होंने कहा, ‘‘आज सारी दुनिया प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत को एक नयी दृष्टि से देख रही है। मोदी के नेतृत्व में भारत बदल चुका है। प्रधानमंत्री की अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ जिस आत्मीयता और बेबाकी से बात हुई है, वह भी भारत की अलग तस्वीर प्रस्तुत करती है।’’

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने विकासवाद के साथ आतंकवाद, विस्तारवाद और जलवायु परिवर्तन पर बेबाकी से बात की और साथ ही साझा तरीके से विभिन्न वैश्विक समस्याओं का कैसे समाधान किया जा सकता है, उसकी भी चर्चा की।

उन्होंने कहा, ‘‘आपने (मोदी) भारत का सम्मान बढ़ाया है।’’

तीन दिवसीय यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 76वें सत्र को संबोधित किया और उससे पहले प्रत्यक्ष क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लिया। इसके अलावा, मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ ही अपने आस्ट्रेलियाई एवं जापानी समकक्षों के साथ द्विपक्षीय और बहुपक्षीय कार्यक्रमों में हिस्सा लिया।

स्वदेश रवाना होने से ठीक पहले प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने अमेरिका में पिछले कुछ दिनों में द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय कार्यक्रमों में हिस्सा लिया जो काफी फलदायी रहे।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘पिछले कुछ दिनों में विभिन्न सीईओ से बातचीत की और संयुक्त राष्ट्र संबोधन समेत द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय कार्यक्रमों में हिस्सा लिया, जो काफी फलदायी रहा। मुझे पूरा भरोसा है कि आने वाले वर्षों में भारत-अमेरिका संबंध और मजबूत होंगे। हमारे लोगों के बीच समृद्ध संबंध हमारी मजबूत धरोहर में शुमार हैं।’

प्रधानमंत्री मोदी ने पांच कंपनियों के शीर्ष अमेरिकी सीईओ से भी मुलाकात की और उन्हें देश में निवेश के लिए आमंत्रित किया।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares