VIDEO : राजस्थान में हरियाणवी गाने पर हुआ ‘वर्दी वाला डांस’ : जानिए क्या है पूरा मामला ?

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 2 दिसंबर, 2019 (युवाPRESS)। सोशल मीडिया पर आजकल एक महिला पुलिसकर्मी का डांस वीडियो जमकर धूम मचा रहा है। इस वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहा है कि खाकी वर्दी में सज्ज यह महिला पुलिस कॉन्स्टेबल हरियाणवी गाने पर ठुमके लगा रही है। आम तौर पर जब ऐसे वीडियो मीडिया अथवा सोशल मीडिया में वायरल होते हैं, तो यही माना जाता है कि इस पुलिस कर्मी ने ऐसा करके पुलिस का कोई नियम भंग किया है और अब अवश्य ही इसके खिलाफ कोई न कोई दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी, परंतु यदि आप इस वीडियो को देखकर भी ऐसा ही सोच रहे हैं तो आप गलत हैं, क्योंकि इस महिला पुलिसकर्मी के विरुद्ध कोई दंडात्मक कार्यवाही नहीं होगी, बल्कि आपकी अपेक्षाओं के विपरीत इस महिला कॉन्स्टेबल के सीनियर अधिकारी तो उसके डांस की जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। आइए जानते हैं, क्या है पूरा मामला ?

आम तौर पर पुलिस का नाम आते ही सबसे पहले लोगों के जहन में एक नकारात्मक छवि उभरती है, परंतु हम पुलिस की जो तस्वीर आपके सामने लेकर आए हैं, वो नकारात्मक नहीं, अपितु सकारात्मक है। सामान्यतः पुलिस देश के अंदर की सुरक्षा व्यवस्था और कानून-व्यवस्था को देखती है। समाज में छुपे बैठे अपराधियों को खोजकर पकड़ना और उन्हें अदालत के समक्ष प्रस्तुत करके उन्हें उनके अपराधों की सज़ा दिलाना पुलिस का काम है। ऐसा करके पुलिस सभ्य नागरिकों और समाज की आपराधिक मानसिकता वाले लोगों से रक्षा करती है। कई बार अपराधी को खोजने और पकड़ने के लिये उसे बल प्रयोग करना पड़ता है। यही वो प्रमुख कारण है, जिसकी बदौलत पुलिस को कठोर माना जाता है, परंतु ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। वर्दी में सज्ज होकर पुलिस विभाग में सेवाएँ देने वाले लोग भी हमारे समाज का ही हिस्सा हैं और वे भी हम सभी की तरह सामाजिक-धार्मिक उत्सवों और शादी-ब्याह जैसे प्रसंगों में भाग लेकर अपनी खुशी का इज़हार करते हैं। पुलिस कई प्रकार के समाज सेवा के कार्यों में भी बढ़-चढ़ कर भाग लेती है।

ऐसा ही एक खूबसूरत काम राजस्थान की खाकी वर्दी ने भी किया है, जिसे जान कर आप भी पुलिस की तारीफों के पुल बाँधने में जुट जाएँगे। जो वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ है, वो राजस्थान की बीकानेर पुलिस का है। दरअसल पुलिस मैस में खाना पकाने का काम करने वाली एक वृद्ध और गरीब महिला की नातिन की शादी खुद पुलिस ने करवाई। पुलिस ने कन्या पक्ष की ओर से वर पक्ष को तोहफे भी दिये और भात (मायरा) की रश्म भी निभाई। इसी मौके पर एक महिला कॉन्स्टेबल ने शादी की खुशी के मौके पर डांस भी किया, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

खाकी ने किया खूबसूरत काम : गरीब वृद्धा की नातिन की करवाई शादी

बीकानेर पुलिस के अनुसार पुलिस मैस में खाना बनाने का काम करने वाली वृद्धा गुना देवी की पुत्री का कुछ साल पहले निधन हो गया। उसकी दो बेटियों को नानी अर्थात् गुना देवी ने ही पाल-पोष कर बड़ा किया। हालाँकि गुना देवी की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वे नातिन की शादी कर पाती। इसलिये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पवन कुमार मीणा और महिला पुलिस थानाधिकारी मनोज माचरा की अगुवाई में थाने के 29 पुलिस कर्मियों ने सुदर्शनानगर में एक छोटे से मकान में रहने वाली गुना देवी की नातिन भारती की शादी कराने का बीड़ा उठाया। सभी ने मिल कर भारती के मायरे में 1.15 लाख रुपये नकद, तोहफों के रूप में घर-गृहस्थी की उपयोगी वस्तुएँ, सोने की अँगूठी, कानों की बालियाँ और चाँदी की पायलें भेंट की। पुलिस वालों ने केवल मायरे के लिये ही पैसे, कपड़े, वस्तुएँ और गहनों की व्यवस्था नहीं की, बल्कि कन्यादान में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

माचरा के अनुसार गुना देवी की नातिन भारती की शादी तो तय हो गई थी, परंतु शादी कैसे होगी, इसे लेकर गुना देवी चिंतित थी। जब थानाधिकारी मनोज माचरा को इस बात का पता चला तो उन्होंने अपने सीनियर अधिकारियों से बात की और सभी पुलिसकर्मियों ने मिल कर इस शादी का न सिर्फ खर्च उठाने का निर्णय किया, बल्कि भारती को धूम धाम से ससुराल विदा करने का निर्णय किया, जिसके फल स्वरूप भारती का जीवन सँवर गया। गुना देवी और खुद भारती भी पुलिस का उपकार मानने से नहीं थक रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उनकी शादी इतनी धूमधाम से होगी। वह तो सपने में भी ऐसी शादी की कल्पना नहीं कर सकते थे। तो देखा ना आपने, पुलिस का यह भी एक मानवतावादी चेहरा है, जिसे बहुत कम लोग देखते हैं।

You may have missed