जाने राजस्थान बजट 2018 से लोगों को क्या मिला

Rajasthan budget 2018

राजस्थान बजट 2018 (Rajasthan Budget 2018)

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सोमवार को 2018 – 19 का राजस्थान बजट (Rajasthan Budget 2018) पेश किया। यह राजस्थान के सरकार का 5 साल में 5वां बजट है। इस बजट में मुख्यमंत्री (Chief Minister Vasundhara Raje) ने लोगों की सहायता के लिए कई बड़ी घोषणाएं की। इस बजट के अनुसार 30 सितंबर से पहले किसानों द्वारा लिया गया 50 हजार के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज माप किया जायेगा। 400 KV के 1 सब स्देश प्रारंभ किया जायेगा। 7,00,000 नये बिजली के कनेक्शन लोगों को दिये जाएंगे। किसानों की सहयाता के लिए 2 लाख तक का कृषि कनेक्शन दिये जाएंगे। राज्य में कई जगह पर वन उपज मंडिया बनाया जायेगा। ऐसा लगता है कि सरकार (Rajasthan Government) ने इस साल होने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव (Rajasthan Assembly Elections) को देखते हुए बजट का निर्माण किया है।

जीएसटी के बाद राजस्थान में कारोबार 

राजस्थान में कारोबार (Business) को असान बनाने के लिए सरकार ने 515 सर्विस को ऑनलाइन करने का फैसला लिया है। जीएसटी (GST) शुरू होने के बाद राज्य में 1.81 लाख नये कारोबारियों ने रजिस्ट्रेशन किया है। कारोबार में लगभग 35 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है।

राजस्थान में जिन उत्पादों पर टैक्स दरे (Tax Rates) लागू नहीं की गई थी, उस पर टैक्स दरे लगू की गई है। इसके अलावा राजस्थान की मुख्यमंत्री ने कहा की वह राजस्थान को पेपरलेश (Paperless) करना चाहती है। वसुंधरा राजे ने ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) को पेपरलेश करने के लिए घोषणा की। राजस्थान की 16 तहसीलों में कृषि भूमि के ट्रांसफर को ई-पंजीयन (E-Registration) किया जायेगा।

कांग्रेस ने कहा चुनावी बजट

इस बजट से मुख्यमंत्री ने सभी वर्गों को खुश करने की कोशिश की है। राजस्थान सरकार ने सुराज संकल्प यात्रा (Sankalp Yatra) के दौरान की गई घोषणा को पुरा किया है। उधर कांग्रेस के मंत्री धीरज गुर्जर ने वसुंधरा सरकार (Vasundhara Government) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह बजट किसानों के लिए ऊंट के मुंह मे जीरा है। रामेश डूडी ने कहा कि यह बजट शहरी क्षेत्र के लिए अछूता है। सरकार ने चुनाव (Rajasthan Assembly Elections) को देखते हुए इसे पेश किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *