अब नहीं बना सकेंगे फर्जी राशन कार्ड, मोदी सरकार उठाने जा रही है बड़ा कदम

Written by
Ration Card

नई दिल्लीः भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की सरकार Ration card में चल रहे फर्जी कार्य को रोकने के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है। जो आम जन्ता के हित में भारत सरकार का यह एक बडा कदम होगा। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सरकार जल्द ही एक ऐसी तकनीक का प्रयोग करने जा रही है जिससे की फर्जी राशनकार्ड बनाने वालो पर नकेल कसा जा सके।

बताया जा रहा है कि भारत सरकार जल्द ही आधार कार्ड के जैसे प्रत्येक Ration card धारक को लेकर भी एक यूनिक पहचान नंबर जारी करने जा रहा है। जिससे कोई भी राशन कार्ड धारक दूसरा राशन कार्ड न बना सके। और जरुरतमंदों को पर्याप्त मात्रा में राशन उपलब्ध कराया जा सके।

हांलांकि भारत सरकार इंटरनेट पर एक ऐसा सिस्टम बनाने जा रहा है। जिसमें सभी Ration card धारकों से संबंधित जानकारी को एक जगह संग्रह करके रखा जा सके। और फर्जी राशन कार्ड बनाने वाले को रोका जा सके। जिससे कि जरूरत पड़ने पर प्रत्येक राशनकार्ड धारक से जुड़ी जानकारी को समय पड़ने पर आसानी से इस्तेमाल किया जा सके।

भारत सरकार द्वारा किए जा रहे इस व्यवस्था से उन लोगो को अधिक सुविधा होगी जो लोग अपनी नौकरी की वजह से देश के अलग-अलग भागों में जाकर बस चुके है। अभी भी यदि कोई व्यक्ति अपने शहर से किसी दूसरे शहर में रहने के लिए जाता है तो उस व्यक्ति को अपनी पुरानी जगह से राशन कार्ड दफ्तर में जाकर वहां से अपना नाम कटवाकर नई जगह पर अपना नाम राशन की दुकान पर पंजीकृत कराना पड़ता है। मगर इस व्यवस्था के आने के बाद राशनकार्ड धारक को नई जगह पर जाने के बाद एक बार फिर से उसी इलाके के राशन कार्ड दफ्तर के चक्कर नहीं काटने पड़ेगें।

दरअसल इस प्रकार का सिस्टम मात्र कुछ राज्यों में लागू हैं। जिसमें राजस्थान, हरियाणा, आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना जैसे राज्य शामिल है। जहां कि एक राज्य के राशनकार्ड धारक दूसरे राज्य के राशन की दुकान से अनाज खरीद सकते है।

बहरहाल इस सिस्टम के लागू होने के बाद से पूरे भारत देश के लोग किसी भी राज्य मे जाकर आसानी से राशन खरीद सकेंगे।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares