VIDEO देखिए और जानिए कि कोहली को क्यों आया गुस्सा और कहना पड़ा, ‘यह क्लब लेवल टूर्नामेंट नहीं है’ ?

इंडियन प्रीमियर लीग 12 (IPL 12) में गुरुवार को 7वें मैच में मुंबई इंडियंस (MI) के हाथों हार मिलने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के कप्तान विराट कोहली को इतना गुस्सा आया कि उन्होंने ये कह दिया, ‘यह क्लब लेवल टूर्नामेंट नहीं है। अंपायर्स को ऐसी ग़लती नहीं करनी चाहिए।’

कोहली का यह आक्रोश स्वाभाविक था, क्योंकि मैदान पर मौजूद अंपायर्स ने जो गलती की, उसके चलते आरसीबी को हार का सामना करना पड़ा। यदि अंपायर्स लसिथ मलिंगा की उस गेंद को, जो वास्तव में नो बॉल थी, नो बॉल घोषित न करने की गलती न करते, तो यह मुकाबला आरसीबी जीत जाती, लेकिन दुर्भाग्य से अंपायर्स एस रवि और नंदन की नज़र नहीं पड़ी और वह गेंद मैच के लिए निर्णायक साबित हुई।

क्या है पूरा मामला ?

बेंगलुरू के एम. चिन्नास्वामी क्रिकेट स्टेडियम में गुरुवार शाम आरसीबी और एमआई के बीच हुए मैच में एमआई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 187 रन बना कर आरसीबी को 188 रन बनाने का लक्ष्य दिया। जवाब में आरसीबी 20 ओवर में पांच विकेट खोकर 181 रन ही बना पाई और 6 रन से मुकाबले को हार गई।

क्यों हारी आरसीबी ?

इस मैच में मैदान पर एस. रवि और नंदन अंपायर थे। मैच की आखिरी गेंद पर आरसीबी को 7 रनों की जरूरत थी और अगर इस गेंद पर छक्का लग जाता, तो आरसीबी एमआई के स्कोर की बराबरी कर लेती, लेकिन इस गेंद पर वह एक रन ही बना पाई और 6 रन से उसकी हार हो गई। मैच पूरा होने के बाद रिप्ले में देख कर पता चला कि लसिथ मलिंगा की आखिरी गेंद नो बॉल थी, लेकिन फील्ड अंपायरों ने इसे नहीं देखा और उनकी इस भारी गलती का खामियाजा आरसीबी को हार के रूप में उठाना पड़ा। अगर अंपायर यह देख पाते और इसे नो बॉल करार देते तो आरसीबी को एक अतिरिक्त रन भी मिलता और एक फ्री हिट बॉल भी मिलती. जिस पर अगर वो छक्का मार कर मैच जीता जा सकता था।

ऐसे घटा घटनाक्रम

मैच का आखिरी ओवर एमआई के गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने किया। मैच को जीतने के लिये आखिरी ओवर में आरसीबी को 17 रनों की जरूरत थी। मलिंगा की पहली ही गेंद पर आरसीबी के बल्लेबाज शिवम दुबे ने छक्का जड़ दिया। इसके बाद 5 गेंदों में 11 रन चाहिये थे। दूसरी गेंद पर शिवम ने एक रन लेकर स्ट्राइक एबी डिविलियर्स को दे दी। डिविलियर्स भी बड़ा शॉट नहीं लगा सके और एक रन लेने के लिये दौड़ गये। अब 3 गेंदों में 9 रनों की जरूरत थी और अभी भी मैच आरसीबी के हाथ में था। आरसीबी को एक बड़े शॉट की जरूरत थी। लेकिन शिवम दुबे फिर बड़ा शॉट लगाने में नाकाम रहे और सिंगल रन ही ले सके। अब दो गेंदों में 8 रन चाहिये थे और सामने डिविलियर्स थे, इस गेंद पर बड़ा शॉट लगता तो आरसीबी जीत के करीब पहुंच जाती। लेकिन डिविलियर्स भी ऐसा चमत्कार नहीं कर पाये और एक रन के लिये दौड़ गये। अंतिम गेंद खेलने के लिये शिवम दुबे को स्ट्राइक मिली और उन्होंने शॉट भी लगाया, लेकिन एक रन ही ले पाये और मुंबई इंडियंस 6 रन से मैच को जीत गई। हार स्वीकार करके आरसीबी के दोनों नाबाद बल्लेबाज पवेलियन की तरफ लौट रहे थे तभी रिप्ले में दिखा कि लसिथ मलिंगा की आखिरी गेंद नो बॉल थी। लेकिन फील्ड के अंपायरों ने इस पर ध्यान नहीं दिया था। दो से तीन मिनट का समय भी बीत चुका था। इसलिये थर्ड अंपायर और मैच रेफरी ने भी इस पर कोई निर्णय नहीं लिया और इस तरह आरसीबी जीत की दहलीज तक पहुंचकर भी मैच को हार गई।

देखिए VIDEO :

Leave a Reply

You may have missed