TWITTER ALERT : अगर आप कश्मीर पर कुछ ट्वीट करने जा रहे हैं तो हो जाइये सावधान, जानिए क्यों ?

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 12 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद अब विपक्षी दलों और पाकिस्तान में खलबली मची हुई है। यह मामला देश और दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। सोशल मीडिया पर भी आजकल यही मुद्दा छाया हुआ है, ऐसे में ट्वीटर पर एकाउंट रखने वाले लोगों को सविशेष सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि घाटी में अशांति फैलाने के लिये कुछ लोग आपत्तिजनक ट्वीट कर रहे हैं और अफवाहें फैला रहे हैं, ऐसे में विवादास्पद ट्वीट पर री-ट्वीट करने से पहले हजार बार सोच लें।

केन्द्र सरकार ने बैन किये 8 ट्वीटर अकाउंट्स

जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद अभी जो हालात हैं, ऐसे में कोई भी भ्रामक या अफवाह फैलाने वाले ट्वीट शांति में खलल पैदा कर सकते हैं। इतना ही नहीं, खुफिया विभाग ने भी अलर्ट जारी किया है कि कुछ आतंकी समूह जम्मू कश्मीर में किसी बड़े हमले को अंजाम देने की तैयारी में हैं, ऐसे में कोई भी अफवाह शांति भंग कर सकती है। इसलिये सरकार ने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर निगरानी शुरू की है और गृह मंत्रालय ने अफवाह फैलाने वाले अकाउंट्स को बंद करने की सिफारिश की है। इस सिफारिश पर सरकार ने 8 ट्वीटर अकाउंट को बंद भी कर दिया है। इनमें @kashmir787-Voice of Kashmir, @Red4Kashmir-MadihaShakil Khan, @arsched-Arshad Sharif, @mscully94-Mary Scully, @sageelaniii-Syed Ali Geelani, @sadaf2k19, @RiazKha61370907 और RiazKha723 शामिल हैं।

शांति भंग करने की साजिश के तहत फैलाई जाती हैं अफवाहें

उल्लेखनीय है कि इंटेलिजंस डिपार्टमेंट (IB) ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि इस्लामिक स्टेट यानी (IS) और उसके समर्थक आतंकवादी बकरा ईद और स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को बड़े आतंकी हमले की साजिश रच रहे हैं। खुफिया विभाग ने जम्मू कश्मीर पुलिस इकाई और पुलिस मुख्यालयों में एक गुप्त रिपोर्ट भेजकर कहा है कि पाकिस्तान की जासूसी संस्था आईएसआई समर्थित जिहादी समूह के आतंकवादी जम्मू कश्मीर तथा देश के अन्य इलाकों में 15 अगस्त के मौके पर आतंकी घटना को अंजाम दे सकते हैं। ऐसे में कोई भी भ्रम की स्थिति पैदा करने वाला ट्वीट या अफवाह फैलाने वाला ट्वीट जम्मू कश्मीर सहित देश के विभिन्न हिस्सों में शांति भंग कर सकता है। इस रिपोर्ट के आधार पर सरकार ने सोशल मीडिया पर निगरानी शुरू की है और अफवाह फैलाने वाले ट्वीटर अकाउंट्स को बंद करने तक के कड़े कदम उठाए हैं, जो दर्शाता है कि सरकार जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर गंभीर है और किसी भी प्रकार की अप्रिय हरकत को कतई बर्दाश्त करने को तैयार नहीं है।

ट्वीटर अकाउंट्स होल्डर्स को सतर्क रहने की जरूरत

8 ट्वीटर अकाउंट को बंद किये जाने से अन्य ट्वीटर अकाउंट्स होल्डर को सबक लेने की आवश्यकता है और साथ ही साथ ऐसे अफवाह फैलाने वाले ट्वीट्स से अलर्ट रहने की भी आवश्यकता है, ताकि गलती से भी वह सरकार के दोषी न बन जाएँ। क्योंकि ऐसा होने पर उनका ट्वीटर अकाउंट्स बंद हो सकता है।

You may have missed