मात्र 12 वर्ष की उम्र में ही सुचेता सतीश ने बनाया गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड

Written by
Suchetha Satish

नई दिल्ली: माँ सरस्वती की कृपया वेसे तो सब पर ही होती है। लेकिन कुछ ऐसे लोग होते जिनके आवाज़ (voice) में मिठास ही मिठास होती है। ऐसे ही एक 12 वर्षीय दुबई की रहने वाली सुचेता सतीश है। Suchetha Satish भारत से हैं, लेकिन दुबई रहकर वहा के इंडियन हाई स्कूल में 7वीं कक्षा में पढ़ रही हैं। सुचेता ने केवल अपने एक वर्ष के रियास के बाद दुबई स्तिथ इंडियन कांसुलेट ऑडिटोरियम  में 102 भाषाओ में लगातार 6 घंटे 15 मिनट में गाने गाकर  25 जनवरी 2018 को  गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में आपना नाम आखिर दर्ज करवा लिया हैं।

Suchetha Satish ने पहली बार वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की कोशिश वर्ष 2017 में की थी लेकिन नाकाम रही। चोकाने वाली बात तो सुचेता की यह है, कि वह सभी भाषा के गाने एक साथ गा लेती हैं। विदेशी भाषा (foreign language) में पहली बार सुचेता ने जापानी भाषा में गाना गया था। अपने स्कूल के कम्पटीशन में भी कई वर्षो से भाग लेकर लगातार गाना गा रही है। इतना ही नही बल्कि youtube पर सुचेता कि सोंग्स और इंटरव्यू की वीडियोस भी मोजूद है। साथ ही इन्होने एक लोकल फम (F.M) में भी इंटरव्यूज हुए है, जिसमे इन्होने 5 मिनिट में 25 गाने गाये थे।

गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में Suchetha Satish के अलावा डॉ.केसृराजू  श्रीनिवास, ऐ.के ऐ घज़ल श्रीनिवास (भारत) ने 125 अलग अलग भाषाओ में रैक रिकॉर्ड कर ‘द पाथ ऑफ़ महत्मा गाँधी का टाइटल देकर 2 दिसम्बर 2009 में रिलीज़ किया था। लेकिन सुचेता इनमे से वो पहले लड़की हैं, जिसने छोटी सी उम्र 12 वर्ष में ही अपनी गायकी से वर्ल्ड रिकॉर्ड बना लिया।

सुचिता कहती हैं, कि उनके मुताबिक मुश्किल भाषा उन्हें फ्रेंच, जर्मन और हंगरियन लगती थी। इसके अलावा विदेशी भाषा सिखने में उन्हें 2 घंटे का समय लगता था।

सुचिता ने केवल वर्ल्ड रिकॉर्ड ही नहीं बनाया बल्कि सभी बच्चे से लेकर युवाओ के लिए एक मिसाल भी बनी हैं।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares