अब कितने इंच का हो गया मोदी का सीना ? जानने के लिए CLICK कीजिए

Written by

देश में लोकसभा चुनाव हो रहे हैं। अभी तीन चरणों का मतदान पूरा हुआ है, चार चरणों का मतदान होना अभी बाकी है। इसके बाद 23 मई को चुनाव के परिणाम आएंगे, परंतु परिणाम आने से पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 56 इंच के सीने के साथ 62 इंच का सीना जुड़ गया है !

यह बात हम नहीं कह रहे, यह कहना है बॉलीवुड के फिल्म निर्माता अनिल शर्मा का। दरअसल अपने दमदार फिल्मी डॉयलॉग के लिये पहचाने जाते अभिनेता सन्नी देओल मंगलवार को भाजपा से जुड़ गये और इसी दिन भाजपा ने उन्हें पंजाब के गुरदासपुर से चुनाव लड़ने का टिकट भी थमा दिया।

सन्नी देओल ने अनिल शर्मा की बहुचर्चित और सुपरहिट फिल्म ‘गदर – एक प्रेम कथा’ में अभिनय किया था। अनिल शर्मा का कहना है कि सन्नी देओल उनके फेवरेट अभिनेता हैं। अनिल शर्मा ने ही अपने ट्विटर के माध्यम से सन्नी देओल के साथ की अपनी तस्वीर भी साझा की है और सन्नी देओल के भाजपा में शामिल होने पर कमेंट करते हुए लिखा है कि ‘सन्नीजी के भाजपा में शामिल होने से मोदीजी के 56 इंच के सीने के साथ अब 62 इंच का सीना भी जुड़ गया है।’ उन्होंने सन्नी देओल को भाजपा जॉइन करने के लिये बधाई भी दी है।

भारतीय राजनीति में 56 इंच का सीना वाला वाक्य काफी चर्चा का विषय रहा है। इसलिये आपको बताना चाहते हैं कि इस शब्द ने भारतीय राजनीति में कब और कहां से प्रवेश किया। यह शब्द 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले ही राजनीति में प्रवेश कर गया था। उस समय नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले ही भाजपा के प्रधानमंत्री पद के कंडीडेट के तौर पर मोदी के नाम की बहुत चर्चा हुई थी। इसी दौरान उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में जो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृहनगर है, में एक जनसभा का आयोजन किया गया था। उस समय मोदी को सुनने के लिये लोगों में बहुत उत्सुकता रहती थी। उस समय गोरखपुर भी भगवा रंग में रंगा हुआ नजर आता था। इसी सभा में स्वयं मोदी के मुख से 56 इंच का सीना वाला वाक्य निकला था। उन्होंने कहा था कि जब वह गुजरात की गद्दी पर सवार हुए थे, तब 2002 के दंगे हुए थे, इसके बाद गुजरात को उन्होंने विकास मॉडल बनाया। गुजरात को उस बुरे सपने से निकालकर इस विकास के रास्ते पर लाने का काम आसान नहीं था। ऐसा करने के लिये 56 इंच का सीना चाहिये। तब से ही उनके लिये पक्ष के लोग 56 इंच के सीने का वाक्य प्रयोग करने लगे और विपक्ष के लोग 56 इंच के सीने वाले वाक्य को लेकर उन पर कटाक्ष करने लगे। इस तरह यह शब्द राजनीति में प्रचलित हुआ।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares