आतंकी जुनैद गिरफ्तार, बटला हाउस कांड के बाद से फरार था – Terrorist Junaid

Written by
Terrorist Junaid

नई दिल्ली: आजमगढ़ के यूपी से रहना वाला पेशे से इंजीनियर, दिल्ली स्पेशल सेल द्वारा 13 फरवरी को इंडियन मुजाहिद्दीन के खूंखार आतंकी जुनैद (Terrorist Junaid) उर्फ़ आरिज़ खान इलियास जुनैद (Ariz Khan Ilias Junaid) को इंडो-नेपाल बॉर्डर से गिरिफ्तर कर लिया गया था। दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुमार द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार Terrorist Junaid बम बनाने में एक्सपर्ट था। साल 2008 दिल्ली में हुए बटला हाउस एनकाउंटर के बाद यह दिल्ली से फरार था और कई सीरियल ब्लास्ट में शामिल था जिसमें करीब 165 लोगों की जाने गई थी।

2008 में जयपुर और अहमदाबाद बम बलास्ट के बाद सितंबर 2008 दिल्ली में हुए सिरियल ब्लास्ट में 30 लोगों की जान गई थी और 100 लोग घायल हुए थे। बटला हाउस के हाउस नंबर L-18 में पुलिस द्वारा आरोपियों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन धमाके के 6 दिन बाद चलाया गया था। बटला हाउस एनकाउंटर में इंडियन मुजाहिद्दीन (Indian Mujahideen) के दो आतंकवादी को दिल्ली पुलिस ने मार दिया था और दो पकडे भी गये थे जिसके दौरान 32 साल का Terrorist Junaid भाग गया था। इसी एनकाउंटर में इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा की गोली लगने की वजह से मौत हो गई थी। इंडियन मुजाहिदीन के सह-संस्थापक तौकीर को भी जनवरी में ही गिरफ्तार कर लिया गया था। दोनों से बातचीत करने के दौरान पता चला की यह आईएम के द्वारा भारत में दहशत फैलाने और बेरोजगार नौजवानों को आईएम में भर्ती करने की योजना बना रहे थे। केवल इतना ही नहीं बल्कि ये लोग आईएम के बजाए एक नया आतंकवादी ग्रुप बनाना चाहते थे। जिसमें सिमी के सदस्यों मेम्बर हो लेकिन सीमापार के हुक्मरान आईएम खत्म करना नहीं चाहते थे, बल्कि चाहते थे कीआईएम अभी खत्म नहीं हुआ है, और न ही होगा। रिसर्च के दौरान पता चला है की जुनैद पाकिस्तान के काफी लोगों से लगातार संपर्क में था और सीमापार के भी कुछ लोगों से इसकी मुलाकात भी हुई थी, हालाँकि वेह कभी पाकिस्तान नही गया था।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares