TWITTER यूज़र्स के लिए राहत की ख़बर : डिलीट नहीं किए जाएँगे इनेक्टिव अकाउंट्स

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 30 नवंबर, 2019 (युवाPRESS)। सोशल मीडिया की महत्वपूरण माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट TWITTER अपने यूज़र्स के लिए एक राहत भरी ख़बर लेकर आया है। ट्विटर ने कुछ दिन पहले कहा था कि वह बंद पड़े यानी इनेक्टिव अकाउंट्स (निष्क्रिय खातों) को डिलीट कर देगा, परंतु ट्विटर ने अब यह निर्णय वापस ले लिया है। ट्विटर के इस निर्णय से उन करोड़ों यूज़र्स को राहत मिलेगी, जो व्यस्तता के कारण निरंतर ट्विटर पर सक्रिय नहीं रह पाते।

वास्तव में ट्विटर ने इनेक्टिव यूज़र्स अकाउंट को इस तर्क के साथ डिलीट करने का निर्णय किया था कि कदाचित यूज़र की दिलचस्पी नहीं है या फिर वह मर चुका है, परंतु अब ट्विटर ने इन इनेक्टिव अकाउंट्स को डिलीट न करने का निर्णय किया है। नए निर्णय के अनुसार जब तक ट्विटर मृत यूज़र्स के अकाउंट्स को मेमोरलाइज़ करने का कोई तरीका नहीं खोज लेगा, तब तक ट्विटर अपने इनेक्टिव यूज़र्स के अकाउंट डिलीट नहीं करेगा।

उल्लेखनीय है कि जब हाल ही में जब ट्विटर ने इनेक्टिव अकाउंट डिलीट करने के निर्णय की घोषणा की थी, तो कई यूज़र्स ने इस पर असंतोष व्यक्त किया था। यूज़र्स के व्यापक असंतोष को देखते हुए ट्विटर ने यह निर्णय वापस लेते हुए स्पष्टीकरण दिया कि इनेक्टिव अकाउंट्स डिलीट करने का प्रभाव मृत यूज़र्स पर भी पड़ेगा। इतना ही नहीं, ट्विटर के इस निर्णय से उन लोगों पर भी प्रभाव पड़ सकता था, जो व्यस्तता के कारण ट्विटर पर एक्टिव नहीं रह पाते।

वैसे ट्विटर का मानना है कि उसकी इनेक्टिव अकाउंट्स पॉलिसी है, परंतु वह उसे लागू नहीं कर रही थी। यद्यपि इनेक्टिव अकाउंट्स डिलीट करने की पॉलिसी फिलहाल यूरोपीय यूनियन के अकाउंट्स पर लागू की जाएगी। ट्विटर इनेक्टिव अकाउंट पॉलिसी के तहत उन अकाउंट्स को डिलीट करना चाहता है, जिन्हें पिछले छह महीनों से साइन-इन न किया गया हो।

You may have missed