देश एक राष्ट्र, एक बाजार की ओर आगे बढ़ रहा है -केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर

Written by

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि कृषि सुधार के लिए हाल ही में पारित तीनों विधेयकों से किसानों को लाभ होगा। आज गोवा की राजधानी पणजी में उन्‍होंने कहा कि देश एक राष्‍ट्र, एक बाजार की ओर बढ़ रहा है। इससे कृषि क्षेत्र में सुधार होगा और किसानों की आमदनी बढ़ेगी।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सभी औद्योगिक उत्‍पादों के लिए बिक्री मूल्‍य का निर्धारण उत्‍पादक करते हैं, लेकिन कृषि उत्‍पादों का मूल्‍य निर्धारण एजेंटों द्वारा किया जाता था। नये अधिनियम के प्रभावी होने के बाद अब बिक्री मूल्‍य के निर्धारण में किसानों को प्राथमिकता मिलेगी। इससे किसान अपने उत्‍पादों के लिए बेहतर मूल्‍य प्राप्‍त कर पाएंगे और इसका उन्‍हें सीधा लाभ मिलेगा।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अब किसानों को अधिकतम मूल्‍य पर अपने उत्‍पाद बेचने की आजादी होगी। न्‍यूनत‍म समर्थन मूल्‍य भी जारी रहेगा। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि सरकार ने किसानों को इस बार पहले से अधिक न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य दिया है। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि प्‍याज, आलू और तेल को आवश्‍यक वस्‍तु अधिनियम से बाहर कर दिया गया है। अब किसान अपने उत्‍पादों का भंडारण कर सकते हैं और पसंदीदा खरीदार को बेच सकते हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने किसानों से अपील की कि वे नये कृषि कानूनों पर हो रही राजनीति के झांसे में न आएं। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने हमेशा ही किसानों को उनके अधिकारों से वंचित रखा है। प्रकाश जावड़ेकर ने ध्‍यान दिलाया कि इन्‍हें कृषि सुधारों को कांग्रेस पार्टी ने भी अपने घोषणा पत्र में शामिल किया था।

Article Tags:
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares