VIDEO : आपने 15 करोड़ के पेड़ के बारे में तो सुना होगा, देख भी लीजिए, जिसने एक भी बस यात्री को खरोंच नहीं आने दी !

Written by

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद, 30 जुलाई, 2019 (युवाPRESS)। कलकत्ता युनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ. तारक मोहन दास ने 1979 में पेड़ों पर अध्ययन किया था और एक पेड़ की कीमत 2 लाख डॉलर आँकी थी। यदि 1979 की कीमत की महंगाई दर को ध्यान में रखते हुए आज के आधार पर गणना की जाए, तो एक पेड़ अपने औसत 50 वर्ष के जीवन में मानव सहित समग्र पृथ्वी को 15 करोड़ रुपए की सेवाएँ देता है। डॉ. दास के अध्ययन के अनुसार एक पेड़ अपने जीवन में ऑक्सीजन का उत्सर्जन, भू-क्षरण नियंत्रण, मिट्टी को उर्वरक बनाने, पानी रिसायकल करने और हवा शुद्ध करने जैसी अनेक सेवाएँ देता है। डॉ. दास ने 1979 में एक पेड़ की सेवाओं की कीमत 2 लाख डॉलर आँकी थी, जो आज के अनुसार 5 करोड़ रुपए बैठती है। दिल्ली के एक स्वैच्छिक संगठन (NGO) ग्रीन्स के 2013 के अध्ययन के मुताबिक एक स्वस्थ पेड़ वर्ष में जितनी ऑक्सीजन देता है, उस ऑक्सीजन की कीमत 30 लाख रुपए से अधिक बैठती है।

हम यह बात इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि आज का असंवेदनशील मानव अपने स्वार्थ की पूर्ति की बात आते ही पेड़ को लेकर पढ़ाई गई सारी कहानी भूल जाता है और तुरंत पेड़ पर कुल्हाड़ी चलाने में तनिक भी संकोच नहीं करता, परंतु हम इस समाचार के अंत में जो आपको वीडियो दिखाएँगे, उसे देखने के बाद आप स्वयं कहेंगे कि पेड़ की अप्रत्यक्ष कीमत (जो हमें दिखाई नहीं देती) 15 करोड़ भले ही होगी, परंतु यह कीमत भी बहुत कम आँकी गई है, क्योंकि एक पेड़ प्रत्यक्ष रूप से भी मानव की हर समय सहायता को तत्पर रहता है। वह कड़ी धूप में छाँव तो देता ही है, साथ ही पत्थर मारने के बावजूद फल भी देता है।

वास्तव में गत 21 जुलाई को एक ऐसी दुर्घटना घटी, जिसमें एक बस बेकाबू होकर एक पेट्रोल पम्प की तरफ मुड़ गई और वहाँ खड़ी एक कार से टकरा गई। इस दुर्घटना में बस में सवार लोगों की जान जा सकती थी, वे लोग घायल हो सकते थे। दूसरी तरफ कार में सवार लोगों के भी हताहत होने की पूरी आशंका थी, परंतु आपको जान कर आश्चर्य होगा कि केवल और केवल एक पेड़ के कारण इस बेकाबू बस में सवार एक भी यात्री को खरोंच तक नहीं आई। इतना ही नहीं, यदि वह पेड़ न होता, तो कार भी बस की चपेट में बुरी तरह आ जाती, जिसमें यदि कोई बैठा होता, तो कदाचित बुरी तरह घायल हो जाता या फिर उसकी जान भी चली जाती।

इस दुर्घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, परंतु कहीं भी यह खुलासा नहीं हो पा रहा था कि यह वीडियो किस जगह का है। हमने काफी प्रयासों के बाद इस दुर्घटना के बारे में तथ्य जुटाए, जिसके अनुसार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में जो दुर्घटना दिखाई दे रही है, वह गत 21 जुलाई को तमिलनाडु में तिरुप्पुर जिले के पोंगलुर ब्लॉक स्थित केतनूर का है। इस वीडियो में सड़क से गुजर रही एक बस अचानक अनियंत्रित होकर केतनूर स्थित पेट्रोल पम्प की ओर मुड़ जाती है और एक पेड़ के पास खड़ी कार के बिल्कुल नजदीक आ जाती है। अनियंत्रित बस पलटने ही वाली होती है कि वहाँ खड़ा पेड़ उस बस का सहारा बन जाता है और बस को पलटने से बचा लेता है। यदि बस पलटती, तो कार भी उसके नीचे दब सकती थी, परंतु पेड़ के कारण बस पलटने से बच जाती है और सभी बस यात्री सुरक्षित बाहर आ जाते हैं। एक पेड़ के कारण बस में सवार एक भी यात्री को खरोंच नहीं आती।

आप भी देखिए केतनूर पेट्रोल पम्प पर हुई इस दुर्घटना का VIDEO, जो हमें पेड़ का मूल्य समझाता है :

https://www.youtube.com/watch?v=qjCNYfuryQs
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares