VIDEOS-PHOTOS : पानी-पानी ‘स्मार्ट सिटी’ वडोदरा को ‘संस्कार नगरी’ सिद्ध करते हैं ये दृश्य

Written by

अहमदाबाद, 1 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। गुजरात की स्मार्ट सिटी वड़ोदरा में बुधवार को हुई भारी वर्षा के बाद प्रशासन को आजवा बाँध के द्वार खोलने पड़े, जिससे विश्वामित्री नदी में बाढ़ आ गई और नदी का पानी वड़ोदरा शहर में घुस गया। इससे पूरा शहर जलमग्न हो गया है। लोगों के घरों में कई फुट पानी भर जाने से लोग अपने ही घरों में फँस गये हैं। ऐसे में आर्मी और आपदा प्रबंधन दल (NDRF) की टीमों ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में मोर्चा संभाला है और बचाव कार्यवाही को अंजाम दे रही हैं। संस्कार नगरी के संस्कारी नागरिक भी मानवता को महका रहे हैं और राहत बचाव के कार्यों में बढ़-चढ़कर भाग ले रहे हैं। शहर में विभिन्न स्थानों पर मानवता को महकाने वाले दृश्य देखने को मिल रहे हैं।

वड़ोदरा रेलवे स्टेशन के बाहर बचाव कार्यवाही में जुटी सेना

कहते हैं जब सारे प्रयास विफल हो जाते हैं तब सेना आती है। वड़ोदरा में रेलवे स्टेशन के बाहर मुख्य द्वार पर फँसे लोगों की मदद के लिये भारतीय सेना आगे आई और जवानों ने सेना के वाहनों में लोगों को यहाँ से निकालकर सुरक्षित ठिकानों तक पहुँचाया, जहाँ उन्हें खाने-पीने की सुविधाएं मिल सकें। सेना की इस कार्यवाही का दृश्य एक डॉक्टर ध्रुमिल पटेल ने अपने ट्वीटर हैंडल पर शेयर किया है।

कंस्ट्रक्शन साइट पर बच्चों समेत फँसे श्रमिकों को लोगों ने बचाया

शहर के हरणी क्षेत्र में मोटनाथ महादेव मंदिर के पिछले भाग में एक कंस्ट्रक्शन साइट पर पिछले 18 घण्टे से फँसे 5 बालकों और महिलाओं सहित 19 श्रमिकों को स्थानीय लोगों ने बचाया। आसपास के लोगों ने मानव-श्रृंखला की रचना की और रस्सियों की मदद से श्रमिकों को बचाकर अपने घरों में आश्रय दिया। इससे पहले मोटनाथ महादेव मंदिर के पास बंग्लोज में रहने वाले जयदत्त शुक्ला ने अपने ट्वीटर हैंडल पर कंस्ट्रक्शन साइट पर फँसे श्रमिकों की तस्वीरें शेयर करते हुए उनके बचाव के लिये मदद की अपील की थी। इसके बाद स्थानीय लोग उनकी मदद के लिये आगे आए थे।

एक और मानव श्रृंखला ने एक 45 दिन के बकरी के बच्चे की जान बचाई।

पूर्व म्युनिसिपल आयुक्त और कॉर्पोरेटरों के घरों में भी घुसा पानी

विश्वामित्री नदी में आई बाढ़ का पानी शहर के नागरवाड़ा इलाके में स्थित मेहता वाड़ी निवासी भाजपा के वॉर्ड नं. 7 के कार्पोरेटर रमेशचंद्र परमार उर्फ रमेश राजा के घर में भी घुस गया। उन्हें बाल्टी से पानी उलीचना पड़ा। उन्होंने मेयर और मनपा आयुक्त से पानी की निकासी की व्यवस्था करने के लिये लिखित अपील की है। इसके अलावा पूर्व म्युनिसिपल आयुक्त के बंगले में भी घुटनों तक पानी भर जाने से पूर्व मनपा आयुक्त अजय भादू और उनका परिवार भी अपने ही घर में पानी के बीच फँस गया है। बचाव दल ने उनके निवास पर पहुँचकर परिवार का रेस्क्यू किया। हाल ही में अजय भादू को राष्ट्रपति का जोइंट सेक्रेटरी नियुक्त किया गया है।

यह भी देखिये….

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares