क्‍यों भारतीय दर्शकों के दिलों के बेहद नजदीक रही हैं जासूसी कहानियाँ और उनके दिलचस्प किरदार

Written by

1887 में Sherlock Homes नाम के बेहद लोकप्रिय काल्‍पनिक जासूसी किरदार ने साहित्‍य की दुनिया में कदम रखा था। Sir Arthur Conan Doyle ने A Study in Scarlet’ में पहली बार Sherlock Homes को पेश किया था। देखते ही देखते लोगों को यह यकीन होने लगा था कि Sherlock Homes कोई वास्‍तविक व्‍यक्ति हैयहां तक कि Sir Arthur के पास अनगिनत चिटि्ठयां आने लगी थीं जिनमें Sherlock के Autograph मांगे जाते थे और उनसे मुलाकात करने की इच्‍छाएं दर्ज होती थीं। Sherlock Homes का किरदार पाठकों के लिए बेहतरीन संदर्भ बन चुका था। इसके बाद चलन शुरू हुआ ऐसे ही जासूसी किरदारों का, जिन्होंने अपनी खास पहचान बनाने के साथसाथ अपनी कहानियों से पाठकों के दिलोदिमाग में अपनी एक अलग जगह बनायी।

भारतीय पाठकवर्ग भी साहित्‍य की दुनिया में हुए इस बदलाव से अछूता नहीं रहा। धोतीकुर्ता धारण करने वाले ब्‍योमकेश बक्‍शी से लेकर गाजर चबाने वाले करमचंद और हैट पहने सैम डिसिल्‍वा तक को भारतीय दर्शकों तथा पाठकों ने खूब सराहा। इसे विडंबना ही कहा जाएगा कि किसी जासूसी कहानी में भारतीय जासूस के रूप में पहला किरदार अंग्रेज़ लेखक एचआरएफ कीटिंग ने रचा था। यह किरदार था गणेश घोटे का जो बॉम्‍बे पुलिस विभाग में पुलिस इंस्‍पेक्‍टर था। इंस्‍पेक्‍टर घोटे द परफैक्‍ट मर्डर’ से हाथोंहाथ ख्‍याति पा चुके थे। यह किरदार इतना प्रसिद्ध हुआ कि नसीरुद्दीन शाह और ज़‍िया मोहिदि्दन जैसे जानेमाने अभिनेताओं ने परदे पर उनकी भूमिकाएं निभायीं।

गणेश घोटे के अलावाभारतीय दर्शकों/पाठकों ने सत्‍यजित रे के काल्‍पनिक जासूसी पात्र फेलूदासुनील गंगोपाध्‍याय के काकाबाबूशरदिन्‍दु बंदोपाध्‍याय के ब्‍योमकेश बक्‍शी और पंकज प्रकाशअनिल चौधरी के करमचंद जासूस को भी अपने दिलों में जगह दी है। हाल में इस श्रेणी में शामिल किए जाने वाले सबसे प्रसिद्ध किरदार का नाम है डिटेक्टिव बूमराहजो कहानीकार सुधांशु राय द्वारा रचित एक चतुर और साहसी जासूसी किरदार है|

डिटेक्टिव बूमराह अपनी तेजतर्रार और पैनी निगाह के अलावा हिम्मती और निडरता जैसी खूबियों के चलते बहुत ही कम समय में लोगों के पसंदीदा जासूसी किरदार बन गए हैं। नए दौर के श्रोताओं की फरमाइशों के मद्देनज़रडिटेक्टिव बूमराह हर बार यह संदेश दे जाते हैं कि कुछ भी नामुमकिन नहीं है।

इन जासूसी किरदारों की सफलता और लोकप्रियता के पीछे एक और बड़ा कारण है कि इनके रचनाकार किसी भी रहस्‍य की गुत्‍थी सुलझाने की प्रक्रिया में इन जासूसों के साथसाथ पाठकों को भी बराबरी का अवसर देते हैं। ये जासूस एकदम सहज तरीके से हर मामले को सुलझाते हैं।

ऐसे में इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि जासूसी कथाएं आज स्‍टोरीटेलिंग यानी कहानी सुनाने के लिहाज से सबसे ज्‍यादा पसंद की जाती हैं। माध्‍यम भले ही उपन्‍यास होमूवी या फिर कोई वेब सीरीज़एक अच्‍छा जासूसी किरदार पाठकों/दर्शकों को हमेशा लुभाता है।

क्‍या आप जानते हैं कि डिटेक्टिव बूमराह कैसे दिखायी देते हैंइस लोकप्रिय किरदार का पहला लुक जल्‍द ही आपके सामने आने वाला है।

Article Tags:
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares