अब क्या कदम उठाएँगे करामाती कप्तान कोहली ? TEAM INDIA में कहाँ-किस नंबर पर है बदलाव की ज़रूरत ?

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 28 जून 2019 (युवाप्रेस डॉट कॉम) । ICC WORLD CUP 2019 में TEAM INDIA का प्रदर्शन अभी तक शानदार रहा है। हौसले बुलंद हैं और अपने करामाती खेल से अंकतालिका में दूसरे क्रम पर भी पहुँच गई है, परंतु प्रश्न उठता है टीम इंडिया की उस तिकड़ी पर जो उम्मीदों पर खरी नहीं उतर रही है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि कदाचित कप्तान विराट कोहली 30 जून को बर्मिंघम में मेजबान टीम इंग्लैंड से खेले जाने वाले अगले मुकाबले में कुछ एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं।


फ्लॉप राहुल की जगह ओपनिंग कर सकते हैं ऋषभ पंत

टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन के चोटिल होने के बाद उनके स्थान पर उप कप्तान रोहित शर्मा के साथ बल्लेबाजी करने के लिये जोड़ी बनाने वाले के. एल. राहुल एक मात्र पाकिस्तान के विरुद्ध अर्ध शतक लगाने में सफल हुए हैं। इसके अलावा उन्होंने वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ 48 रन की पारी खेली। राहुल की काबिलियत में कोई संदेह नहीं है, वह स्टाइलिश बल्लेबाज हैं, परंतु उनकी कमजोर कड़ी यह है कि वह समय लेकर खेलने के बावजूद अपनी पारी को आगे ले जाने में सफल नहीं हो पाते हैं। उनकी नाकामी से तीसरे नंबर पर आने वाले बल्लेबाज विराट कोहली पर दबाव आ जाता है। राहुल का फ्लॉप शो देखने के बाद अब उन पर अँगुलियाँ उठ रही हैं कि शिखर धवन के स्थान पर भारत से बुलाए गये ऋषभ पंत को कप्तान कोहली कब मौका देंगे ? माना जा रहा है कि 9 में से टीम इंडिया के 6 मैच पूरे हो चुके हैं, जिनमें से 5 में वह जीत चुकी है, जबकि एक मैच बारिश में धुल गया। अब कप्तान कोहली को सेमी फाइनल से पहले ऋषभ पंत को आजमाना है तो उन्हें कम से कम 3 मौके तो देने ही चाहिये, ताकि वह लय पकड़ सकें। ऐसे में संभावना है कि कदाचित कोहली इंग्लैंड के विरुद्ध राहुल की जगह ऋषभ पंत से ओपनिंग करवा सकते हैं, जो कि बाएँ हाथ के बल्लेबाज हैं।


चौथे नंबर की समस्या बरकरार, विजय शंकर की जगह खेल सकते हैं डीके

वर्ल्डकप 2019 के लिये जब चयनकर्ताओं ने टीम इंडिया के 15 खिलाड़ियों का चयन किया तो मुख्य चयनकर्ता एम. एस. के. प्रसाद ने अंबाती रायडू की जगह विजय शंकर को चुनकर सबको चौंकाया और विजय शंकर को 3डी खिलाड़ी बताया था। हालाँकि विजय शंकर ने अभी तक अपने बल्ले से ऐसा प्रदर्शन नहीं किया है, जिससे चयनकर्ताओं के फैसले को सही ठहराया जा सके। राहुल जो चौथे नंबर पर खेल रहे थे, उनके ओपनिंग में जाने से चौथे नंबर पर खेलने आए विजय शंकर ने पहले मैच में बल्ले से तो नहीं परंतु गेंदबाजी से जरूर चकित किया था। मगर समस्या 4 नंबर की है, जिसके फ्लॉप शो से मध्य क्रम के अन्य बल्लेबाजों पर दबाव पड़ता है और दो बार टीम इंडिया 300 से पार स्कोर बनाने से चूक गई। इसलिये इंग्लैंड के विरुद्ध मैच में 4 नंबर पर भी बदलाव देखने को मिल सकता है। विजय शंकर के स्थान पर अनुभवी बल्लेबाज दिनेश कार्तिक को चांस दिया जा सकता है।


केदार का नहीं दिखा दमदार परफोर्मेंस, जाड़ेजा की हो सकती है वापसी

वेस्टइंडीज़ के विरुद्ध पिछली मैच में केदार जाधव 10 गेंदों में 7 रन बनाकर आउट हो गये, जबकि वह धोनी की जगह 5 नंबर पर खेलने के लिये आए थे। मिडल ऑर्डर में केदार जाधव के फेल होने से उनके बाद आने वाले बल्लेबाजों धोनी और हार्दिक पांड्या पर दबाव आ जाता है और वे तेजी से रन बनाने के चक्कर में लंबी पारी खेलने से चूक जाते हैं। जाधव ने एक मात्र अफगानिस्तान के विरुद्ध धोनी के साथ मिलकर अर्ध शतकीय पारी खेली थी, जिसमें उन्होंने 68 गेंदों में 52 रन बनाये थे। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर जैसे दिग्गज क्रिकेटर ने भी दमदार केदार कहलाने वाले जाधव के प्रदर्शन पर सवाल उठाए हैं। ऐसे में जबकि भारत सेमी फाइनल के बेहद करीब है, उसे इन फ्लॉप खिलाड़ियों को बैठाकर ड्रेसिंग रूम शेयर करने वाले अन्य खिलाड़ियों को आजमाना चाहिये। कई पूर्व क्रिकेटरों का कहना है कि केदार के स्थान पर कप्तान कोहली को ऑल राउण्डर रवीन्द्र जाड़ेजा को खिलाना चाहिये, वह जरूरत के हिसाब से तेजी से रन भी बना सकते हैं और अंतिम ओवरों में बड़े शॉट लगाने में भी माहिर हैं। इसके अलावा उनके आने से गेंदबाजी में भी ऑप्शन मिल जाता है, जबकि जाड़ेजा विश्व के बेहतरीन फील्डरों में से भी एक हैं। इसलिये संभावना यह भी है कि वॉर्म अप मैचों में खेलने वाले जाड़ेजा इंग्लैंड के खिलाफ छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते दिखें तो कोई आश्चर्य नहीं होगा।
उल्लेखनीय है कि इंग्लैंड 1983 के बाद से अभी तक विश्व कप प्रतियोगिता में भारत से जीत नहीं पाया है।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares