भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पांड्या के ट्वीट पर बवाल, उनके खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश

Written by
Hardik pandya twitter

नई दिल्ली: भारतीय टीम के हार्दिक पांड्या अपने एक ट्वीट के चलते मुश्किल में पढ़ते दिख रहे हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि 26 दिसंबर 2017 को हार्दिक पांड्या ने अपने ट्विटर अकाउंट (Hardik pandya twitter) से डॉ. भीमराव अंबेडकर के खिलाफ एक टिप्पणी की थी और उन्हो अपने ट्वीट के द्वारा अपमानित किया था तथा साथ ही दलित समुदाय के लोगों की भावनाओं को भी ठेस पहुंचाने का काम किया था।

हार्दिक पांड्या के ट्वीट को लेकर शिकायत करता ने लिखा कि जनवरी में मैने हार्दिक पांड्या के एक ट्वीटर कमेंट (Hardik pandya twitter comment) के बारे में सुना था, डॉ. भीमराव अंबेडकर जैसे सम्मानित व्यक्ति के लिए बहुत अपमानित करने वाला था। उसके देखने से ऐसा लग रहा था कि यह नफरत फैलाकर समाज को विभाजित करने के कोशिश के लिए की गई हो। इससे समाज में भेद भावना बड़ेगी और समज कई भागों में विभक्त हो जायेगा, उन पर कारवाई होनी चाहिए।

हार्दिक पांड्या के इस ट्वीट को संज्ञान में लेते हुए रास्थान के जोधपुर की एक आदालत ने उन पर मुकद्मा कायम करके उनके खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश दिया। यह मुक्दमा एससी-एसटी एक्ट के तहत किया गया है। हालांकि उनका यह ट्विटर अकाउंट (Hardik pandya twitter ) फर्जी भी हो सकता है इसकी जांच होनी अभी बाकी है। लेकिन इसकी जांच मुक्दमा दर्च होने के बाद ही हो सकती है।

कुछ सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि पंड्या नाम के ट्विटर अकाउंट  से यह पोस्ट किया गया था, ‘कौन अंबेडकर? वह व्यक्ति जिसने देश के संविधान का ड्राफ्ट तैयार किया या फिर वह जिसे देश को आरक्षण नाम की बीमारी दे दी।’ अब इसी ट्वीट को लेकर पूरे देश में बवाल मचा हुआ है।

हार्दिक पांड्या अभी सात अप्रेल से शुरू हो रही IPL की तैयारी में लगे हुए है, इस बार उनको मुबई इंडियंस की तरफ से खेलने का मौका मिला है। बता दें की हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी है।

Article Categories:
News · Sports · Sports & Health

Leave a Reply

Shares