Gay, Lesbian किशोरों में Suicide का खतरा ज्यादा

Written by
Sexual Minority

एक रिसर्च में पता चला है कि Gay, Lesbian और Bisexual (Sexual Minority) किशोरों (Teenagers) में आत्महत्या का खतरा काफी ज्यादा रहता है। हालांकि इसका कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है, लेकिन माना जा रहा है कि इसके पीछे तनाव सबसे बड़ा कारण हो सकता है।

Sexual Minority

साल 2015 में हुए एक अध्धयन के मुताबिक अमेरिका के कुल Gay, Bisexual या Lesbian किशोरों में से 40% आत्महत्या करने के बारे में सोच रहे हैं। वहीं ऐसे 35% किशोर बाकायदा आत्महत्या करने की योजना बना चुके हैं। साथ ही 25% किशोर तो एक बार आत्महत्या का प्रयास भी कर चुके हैं। “यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो” (University of Chicago) में समाजशास्त्री Anna Mueller  का भी मानना है कि “Sexual Minority वाले युवाओं में आत्महत्या की भावना खतरनाक तरीके से ज्यादा पायी गई है।”

Sexual Minority

बता दें कि इस विषय पर 15 साल पहले रिसर्च की गई थी, ताजा रिसर्च में किशोरों में आत्महत्या के आंकड़े आश्चर्यजनक रुप से काफी ज्यादा पाए गए हैं। सर्वे National Youth Risk Behavior द्वारा किया गया। सर्वे के दौरान करीब 15,500 किशोरों से बात की गई। सर्वे में एक बात खुलकर सामने आयी कि अधिकतर Gay, Lesbian या Bisexual किशोरों में मानसिक दिक्कत पायी गई।

इस मुद्दे पर मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि Sexual Minority के किशोरों को समाज से मिलने वाले ताने, परिवार का रिजेक्शन जैसी कुछ वजहें हैं, जो इस कम्यूनिटी में आत्महत्या को बढ़ावा देती है।

Article Categories:
Health · Sports & Health

Leave a Reply

Shares