जानिए क्या है Bio-Bubble?

Written by

रविवार को आईपीएल का शेड्यूल जारी कर दिया गया। टीमें 20 अगस्त के आसपास ही दुबई पहुंच चुकी हैं। सभी खिलाड़ी, कोच, सपोर्ट स्टाफ और मैच ऑफिशियल्स को Bio-secure Environment (जिसे बायो-बबल भी कहा जा रहा) में रखा गया है।

आसान भाषा में कहें तो ये एक ऐसा वातावरण है, जिसमें रहने वाला बाहरी दुनिया से पूरी तरह कट जाता है। यानी, IPL में हिस्सा ले रहे Players, Support Staff, Match Official यहां तक की Hotel Staff और Corona test करने वाली Medical team तक को तय दायरे के बाहर जाने की अनुमति नहीं है। इसके दायरे में रहने वाला बाहरी दुनिया के किसी भी व्यक्ति के संपर्क में नहीं आ सकता।

IPL में हिस्सा ले रहे सभी Players, Coaches, Support Staff का Dubai पहुंचने से पहले दो बार Corona test हुआ। Dubai पहुंचने पर सभी को सात दिन के लिए Quarantine किया गया। इस दौरान तीन बार Corona test हुए। जिनकी Report Negative आई वो इस बबल में शामिल हुए। चेन्नई की टीम के 13 लोगों की Report Positive आने पर पूरी टीम का Quarantine सात दिन और बढ़ा दिया गया।

बबल में शामिल हर Member को केवल Ground और उनके Hotel में जाने की अनुमति होगी। इसके अलावा ये किसी से नहीं मिल सकेंगे। यहां तक की अपने Fans, Friend और Relatives से भी नहीं। बबल में शामिल किसी भी शख्स को टूर्नामेंट खत्म होने तक इसके बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी।

अगर किसी ने Bio-bubble तोड़ा तो फिर मुश्किल होगी। BCCI के मुताबिक, बायो-बबल तोड़ने वाले को IPL Code of Conduct के तहत सजा दी जाएगी। अगर खिलाड़ी Bio-bubble तोड़ता है तो उसे कुछ मैच खेलने से रोका भी जा सकता है। इसको लेकर टीमें भी सख्त हैं। मसलन RCB ने पहले से चेतावनी दे रखी है कि अगर किसी खिलाड़ी ने बायो-बबल तोड़ा तो उसे Contract से हाथ धोना पड़ सकता है।

Article Tags:
·
Article Categories:
News · Sports

Comments are closed.

Shares