ऑन्लाइन SWAYAM के रजिस्ट्रेशन ने की 30 लाख की सीमा पार – स्वयम

Written by

 

ऑन्लाइन SWAYAM के रजिस्ट्रेशन ने की 30 लाख की सीमा पार – स्वयम

नई दिल्ली: भारत दुनिया का दूसरा मोबाइल यूज करने वाला प्रथम देश है। भारत ने technology में काफी हद तक की तरकी कर ली है। इसका सबसे अच्छा प्रूफ (proof) सभी बालक, youth, बुढा व्यक्ति अच्छी तरह से दे सकता है। एक समय था जब नोकिया (Nokia) 1100 लांच हुआ था, जिसके माध्यम के द्वारा किसी भी जगह स्तिथ व्यक्ति को पत्र लिखकर भेजने की जगह फोन करने लगे थे। और अब एक वक्त है जब कीपैड phone का इस्तेमाल खत्म होता दिखाई दे रहा है। आज प्रत्यक व्यक्ति एंड्राइड (android) phone यानि की स्मार्ट phone के आदि बन चुके है। लेकिन यह भी सच है की technology के जरिये पढाई भी उतनी ही सरल हो चुकी है। अधिकतर स्टूडेंट्स ऑन्लाइन (online) पढाई पर ज्यादा ध्यान देते है।

सरकार द्वारा सभी स्टूडेंट्स की जरूरत को ध्यान में रखते हुए, एक अहम कदम उठाया है। सरकार ने एक ऑन्लाइन (online) पाठ्यक्रम (studies) की शुरूआत की है, जिसके रजिस्ट्रेशन (registration) बिलकुल निशुल्क रहेगा सभी स्टूडेंट्स के लिए फिर चाहे कोई sc/st/obc या फिर जनरल  वर्ग का हो सबके लियए नियाम एक सामान ही रखा गया है। इस ऑन्लाइन online पाठ्यक्रम का नाम  ‘स्टडी वेब्स ऑफ एक्टिव लर्निंग्स फॉर यंग एस्पायरिंग माइंड्स’ (स्वयम) (SWAYAM) रखा गया है। जिसकी शुरुआत मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह ने एम चंद्रकाशी के प्रश्न के लिखित उत्तर में ऑन्लाइन (SWAYAM) बताकर की गयी थी।

स्वयम (SWAYAM) अभी तक लगभग 30 लाख स्टूडेंट्स के रजिस्ट्रेशन (registration) हो चुके है। साथ ही राज्यमंत्री ने यह जानकारी भी दी की स्वयम (SWAYAM) में माध्यमिक स्तर की शिक्षा से लेकर स्नातकोत्तर स्नातकोत्तर तक की पढाई की जा सकती है। इसमें हिन्दी, इंग्लिश, मैथ्स, इंजीनयरिंग, एकाउंट्स जैसे अन्य विषय है।

स्वयम (SWAYAM) के जरिये अपनी मिस हुई क्लासेज का भी विषय कवर किया जा सकेगा। दरसल इन्टरनेट के मध्यम से कोई भी स्टूडेंट कभी भी कही भी पढाई कर सकता है, और किसी भी समय, दिन हो या रात।

Leave a Reply

Shares