IIT का टूटता तिलिस्म

Written by
Iit campus placements decline by 5 percent

IIT का नाम देश के Reputed Institute में आता है। हर साल यहां के छात्रों को लाखों रुपए की प्लेसमेंट मिलती है लेकिन इस साल Global Economic Slowdown का असर प्लेसमेंट पर साफ दिख रहा है। Global Economic Slowdown की वजह से IIT के प्लेसमेंट में करीब 5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। IIT कानपुर और IIT खड़गपुर के प्लेसमेंट में करीब 8-10 फीसदी तक गिरावट दर्ज की गई है। वही IIT दिल्ली और IIT मद्रास के प्लेसमेंट में भी करीब 3-5 फीसदी की गिरावट हुई है। IIT से जुड़े सूत्रों के मुताबिक इस साल प्लेसमेंट के लिए तो ज्यादा कंपनियां आई लेकिन कम नौकरी पेशकश की गई।

देश में IIT के 23 कॉलेज

देश में IIT के 23 संस्थान हैं जिनमें कुल 17 IIT में प्लेसमेंट हुआ है। 6 IIT 2014-15 के बाद खुले हैं जिनका डेटा उपलब्ध नहीं है। IIT के 23 संस्थानों में करीब 75 हजार छात्र पढ़ाई कर रहे हैं। प्लेसमेंट में गिरावट को लेकर Human Resource and Development Ministry (HRD) का कहना है कि पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था फिलहाल मंदी के दौर से गुजर रही है। कई छात्र ऐसे भी हैं जो Higher studies की वजह से प्लेसमेंट में शामिल नहीं हुए। उन छात्रों की भी कमी नहीं है जो Startups and Entrepreneurship में इंटरेस्टेड होने की वजह से प्लेसमेंट में शामिल नहीं हुए। HRD Minister प्रकाश जावडेकर ने कहा कि 2014-15 में IIT के 17 संस्थानों में 72.82 फीसदी प्लेसमेंट हुआ था। 2015-16 में प्लेसमेंट में बढ़ोतरी दर्ज की गई और 75.59 फीसदी छात्र प्लेस हुए थे जबकि 2016-17 में यह गिरकर 70.85 फीसदी रहा।

HRD Ministry ने जताई  चिंता

प्लेसमेंट में गिरावट को लेकर HRD Ministry ने चिंता जताई और कहा कि उम्मीद करते हैं कि अगले साल प्लेसमेंट में उछाल देखने को मिलेगा। इसको लेकर मंत्रालय की तरफ से IIT मैनेजमेंट को निर्देश जारी किया गया है। प्लेसमेंट सेल को ज्यादा एक्टिव और इफेक्टिव बनाने के लिए एक्शन प्लान तैयार करने को कहा गया है। प्लेसमेंट के मद्देनजर कई IIT कॉलेज पहले से ही डेवलपमेंट सेंटर का मदद ले रही है। जो कंपनियां अब प्लेसमेंट के लिए आ रही हैं वह हार्ड स्किल के अलावा सॉफ्ट स्किल पर भी काफी ज्यादा ध्यान दे रही हैं।

Article Categories:
Jobs · News · Stream and colleges · Youth Corner

Leave a Reply

Shares