Why to join Startups?

Written by
join Startups

Startups का क्रेज लगातार बढ़ता जा रहा है। सरकार की तरफ से भी अपील की जा रही है कि आप employee बनने के बजाए Employer बनें। भारत में Startups की तादाद बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि एक Startups को ज्वाइन करने के क्या फायदे और नुकसान हैं।

It’s easy to get in

Startups का सबसे बड़ा फायदा है कि it’s easy to get in. स्टार्टअप में नौकरी पाना आसान है। हालांकि स्टार्टअप को सफल बनाना आसान नहीं है। एक employee के तौर पर स्टार्टअप को ज्वाइन करने का मतलब है कि आप खुद को explore कर सकते हैं। आप अपनी अन्य खूबियों को भी बाहर निकाल सकते हैं जो Established organization में संभव नहीं हो पाता है। Startups ज्वाइन करने से आपमें Challenges को फेस करनी की शक्ति आ जाती है। यहां काम का दायरा असीमित होता है। हर employee के पास opportunity होती है कि वह अपनी पहचान अपने काम की बदौलत बना सके। स्टार्टअप में आप एक साथ कई जिम्मेदारियों को निभाते हैं इसलिए as a professional आपमें काफी निखार आता है।

Be ready to fight always

Startups को हमेशा ऐसे employee की जरूरत होती है जो हर परिस्थिति (Situations) और मुश्किल हालात (Challenges) का आसानी से सामना कर सके। अगर आप किसी स्टार्टअप को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं तो आपका आत्मविश्वास (Self confidence) काफी बढ़ जाता है। नौकरी को लेकर जिस तरह से परिस्थितियां बदल रही हैं ऐसे में अगर आपमें कुछ नया करने (Value addition) की क्षमता है तो आप करियर बहुत तेजी से आगे बढ़ेगा।

No risk, no gain

सैलरी की बात करें तो आपकी सैलरी कंपनी के भविष्य पर निर्भर करता है। अगर आपकी कोशिशें रंग लाती है और आप Startups को सफल बनाने में कामयाब होते हैं तो करियर में इतना ज्यादा ग्रोथ कही नहीं मिलता है। दूसरी तरफ कुछ लोगों के लिए यह risk लेने जैसा है। लेकिन हम सभी जानते हैं कि no risk, no gain.

प्लानिंग के हिसाब से आगे बढ़ते चलें

Startups की शुरुआत Innovative ideas से होती है। आप अगर एक सफल स्टार्टअप की टीम का अहम हिस्सा हैं तो यह आपके भविष्य के लिए काफी अच्छा है क्योंकि आप खुद अपना Startups शुरू कर सकते हैं। स्टार्टअप की खासियत और खामियाजा है इसका अनिश्चित भविष्य। हालांकि अगर आपकी प्लानिंग (Planning) और स्ट्रेटजी (Strategy) मजबूत है। सबकुछ अगर प्लानिंग के हिसाब से जा रहा है तो स्टार्टअप के सफल होने में कोई दिक्कत नहीं है।

Article Tags:
·
Article Categories:
Startups · Startups & Business · Youth Corner

Leave a Reply

Shares